47 views

मासिक कप का उपयोग कैसे करना चाहिए

Spread the love

एक मासिक कप का उपयोग कैसे किया जाए ?

मैं इसे संछिप्त रूप में समझाते हुए एक सुझाव देना चाहुँगी जो कि जिन लोंगों ने कप लगाना हाल ही में शुरु किया है या नए हैं उनके  लिए यह जानना बहुत ही जरुरी है कि मासिक कप कैसे डालते हैं और कैसे निकालते हैं ?

अगर आप मासिक कप के बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं, जैसे कि मासिक कप क्या है और इसका उपयोग क्यूँ करना चाहिए तो आप हमारे दुसरे वीडियो भी देख सकते हैं जिनमें हमने यह विस्तार से दिखाया है|

इससे पहले कि हम आगे बढ़े , आइये एक नज़र मादा प्रजनन तंत्र के ऊपर डाले| इस चित्र में आप सभी प्रजनन अंग देख सकते हैं जैसे कि अंडवाहिनी नाली, गर्भाशय, अंडाशय, गर्भाशय ग्रीवा और योनि|

female reproductive system

यह खुला भाग है गर्भाशय ग्रीवा और यह जो नली आप देख रहें हैं वो है योनिमार्ग | यहाँ योनी का मुख है|

तो अगर हम इस तरफ से देखें तो यह  हमारा मूत्राशय है और ये है मूत्रमार्ग| यह वो जगह है जहाँ से हम टॉयलेट करते हैं| यह हमारा गर्भाशय, गर्भाशय ग्रीवा और योनि है | माहवारी के समय इस स्थान से हमारा रक्त स्त्राव होता है | तो यह बात साफ है कि हमारा मूत्रमार्ग और माहवारी के समय रक्त स्त्राव का मार्ग अलग है| यह मैं इसलिए दिखा रही हूँ क्यूंकि बहुत सी महिलाओं को यह उलझन है कि अगर मासिक कप पहनेंगे तो टॉयलेट कैसे करेंगे|

यह वह जगह है, जहां यू आप को माहवारी के समय कप डालने की जरूरत है, जब गर्भाशय ग्रीवा से योनि के माध्यम से खून बहता है | हम toilet एक बिलकुल अलग मार्ग से करते हैं तो आप आराम से कप का इस्तेमाल करते हुए शौचालय जा सकते हैं | आपको कप निकालने की कोई आवश्यकता नहीं है |

अच्छा, अब मैं आपको यह दिखाने जा रही हूँ कि कप को अन्दर कैसे  लगाया जाए ? यह महिला प्रजनन तंत्र /प्रणाली का एक छोटा नमूना है| हां , तो जैसा हमने पहले देखा कि ये अंडाशय और गर्भाशय है| यह वह जगह है जहां सभी खून एकत्र किए जाते हैं और यहाँ से खून बाहर आता है| यह हमारी योनिमार्ग है|

रक्त को इकट्ठा करने के लिए कप को यहां , योनि  के  अन्दर डालने की जरूरत है| कप को अन्दर डालने के लिए विभिन्न प्रकार की परतें / मोड़ हैं जिनका उपयोग किया जा सकता है। उदाहरण के लिए – C परत – जहाँ आप कप को  C की तरह मोड़कर अन्दर डालते हैं|

cup c fold
C – मोड़, सामने से
cup c fold top
C – मोड़, ऊपर से

 

अगर आप चाहें तो पंच डाउन फोल्ड का उपयोग भी कर सकते हैं | जिसमे कि आप कप को हल्का सा दबाते हैं और यह संकुचित हो जाता है और तब इसको आसानी से योनि के अन्दर डाला जा सकता है|

 

cup punch down
पंच डाउन फोल्ड, सामने से
cup punch down top
पंच डाउन फोल्ड, ऊपर से

 

 

 

 

 

 

 

 

तो आईये शुरू करते हैं | मैं आपको यह दिखाउंगी  कि पंच डाउन मोड़ का इस्तेमाल कैसे करें? पंच डाउन फोल्ड को इस्तेमाल करने का सबसे सही तरीका यह है कि पहले आप कप के वायु छेद को ढूंढे और फिर उसके ऊपर  अपने उंगली  से दबाएं | जब आप उस छेद को दबाकर अन्दर डालते हैं तो कप अंदर जाकर आसानी से खुल जाता है | मैंने अभी कप को पंच डाउन फोल्ड की तरह मोड़ दिया है और यह है हमारा योनि , तो अब आप यू अंदर इस तरह कप को डालें और इसे अंदर धक्का दें | जब आप इसे छोड़ते हैं तो यह पूरी तरह से अन्दर जाकर खुल जाएगा और योनि की दीवारों के साथ जुड़ जाएगा | अब ये पूरा  कप आपके प्रजनन मुख के भीतर होना चाहिए। अगर इस कप का धड़ जरा सा भी बाहर रह जाए तो आपको चलने में बाधा होगी इसलिए यह जरुरी है कि आप कप को अच्छी तरह से धक्का देकर अन्दर डालें ताकि इसका धड़ भी अन्दर चला जाए |

मान लीजिये यदि आपने कप को मोड़ कर अन्दर घुसा दिया है लेकिन यह अन्दर जाकर नहीं खुलता है तो जाहिर सी बात है कि कप वैसे हीं मुड़ा हुआ रहेगा| ऐसी स्थिति में कप आपको थोडा धंसा हुआ महसूस होगा और यह प्रजनन अंग की दीवारों के साथ नहीं जुड़ेगा जिसकी वजह से खून कप से चूने लगेगा | तो अगर आपको ऐसा महसूस होता है कि कप अच्छी तरह से नहीं खुला है और रिसाव हो सकता है तो आप विभिन्न तरीको का उपयोग करके कप को खोल सकते हैं| मैंने यह पहले ही अपने दुसरे विडियो के जरिये ये सब अलग से दिखाया है लेकिन आइये मैं जल्दी से आपको एक आसान तरीका बताती हूँ जिससे कप अन्दर जा के खुल जाए | कप के आधार/धड़ को पकड़ कर चुटकी से थोडा- थोडा दबाये जिससे कि कप कुछ इस तरह खुल जाएगा|

कप अन्दर डालते समय इस बात का ध्यान रखना बहुत महत्वपूर्ण है कि कप की दिशा सही हो | हमारी योनिमार्ग सीधी रेखा में नहीं होती है , बल्कि थोड़ी पीछे की तरफ टेढ़ी होती है| बहुत से लोग इसे सीधी दिशा में ऊपर की तरफ डालने की कोशिश करते हैं इसलिए उन्हें दर्द महसूस होता है और कप लगाने में कठिनाई होती है|

चूँकि हमारी योनी पीछे से थोड़ी मुड़ी होती है , बिल्कुल इस दिशा में , जैसा आप देख रहें हैं | अगर आप कप ऊपर की तरफ सीधी डालते है तो यह अन्दर नहीं जा पायेगा | इसलिए जब भी कप लगाना है तो यहाँ दिखाए गए तरीके का उपयोग करें |

insert menstrual cup

हम यह भी कर सकते हैं कि पहले अपनी उंगलीऊँगली अन्दर डालें तो हमें यह पता चल जाएगा कि कप किस दिशा में और कैसे लगाना है | इससे कप आसानी से अन्दर डाला जा सकता है | कप जब अच्छी तरह से अन्दर लग जाए तो इसे आप तब तक छोड़ दें जब तक यह पूरी तरह से भर नहीं जाता | संभवतः इसे भरने में 8 – 10 घंटे लगते हैं | जब यह भर जाए तो इसे बाहर निकाले औए सिर्फ पानी से अच्छी तरह से धोकर फिर पहन लें |

कप निकालने के लिए आपको अपने उंगली और अंगूठे को योनी के मुख के पास थोडा अन्दर की तरफ डालना है जिससे कि आपको कप का धड़ महसूस होगा | अब कप के आधार को हलके से चुटकी से दबाएँ | इसके दबाते ही कप के छेद से हवा उसके अन्दर चला जाता है और कप योनी के दीवारों से अलग हो जाता है जिससे कि इसको निकलना आसन हो जाता है| कप को दबाते के साथ ही आपको इसे थोडा बाएं – थोडा दायें करके बाहर की तरफ कुछ इस तरह खींचना है जिससे कि यह बाहर निकल जाएगा|

कुछ लोगों को इसे लगाते वक़्त बहुत दर्द होता है क्यूंकि कप का मुँह काफी बड़ा होता है और इसे योनी के मुख से निकालते समय चोट लग जाती है | ऐसा ना हो इसलिए ज्योंही आप इसे चुटकी से दबाते हैं , इसे थोड़े नीचे की तरफ लायें और फिर उंगली और अंगूठे की मदद से आप कप को मोड़ सकते हैं| जब कप का धड़ थोडा बाहर आ जाता है तब इसे C फोल्ड या साधारण तरीके से मोड़ दें ताकि कप छोटा हो जाए और आसानी से निकाला जा सके और आपको दर्द ना हो | जब कप बाहर आ जाए तो उसमें भरा हुआ सामान अपने  वाश बेसिन या टॉयलेट  में फेंक दें और कप को पानी से अच्छी तरह धों लें और फिर से अन्दर दाल लें |

एक और महत्वपूर्ण बात बताना चाहुँगी कि गर्भाशय ग्रीवा की लम्बाई विभिन्न महिलाओं में अलग अलग होती है|  किसी की गर्भाशय ग्रीवा छोटी होती है , किसी की माध्यम आकार की और किसी की बड़ी होती है | जिन महिलाओं की गर्भाशय ग्रीवा की लम्बाई छोटी  और माध्यम होती है उनके लिए कप को अन्दर डालना और निकालना आसान होता है क्यूंकि उनका कप योनी के मुख के बहुत पास होता है| लेकिन कुछ महिलाओं की गर्भाशय ग्रीवा थोड़ी बड़ी और ऊँची होती है उनको ऐसा मह्सूस होता है कि कप उनके अन्दर खो गया है क्यूंकि उनको कप का आधार या धड़ महसूस ही नहीं होता है| और यह बिल्कुल साधारण सी बात है क्यूँकि  अधिकतर महिलाओं की गर्भाशय ग्रीवा ऊँची ही होती है| जिन महिलाओं की गर्भाशय ग्रीवा ऊँची होती है उनको जरा सा भी परेशान होने की आवश्यक्ता नहीं है क्यूंकि अगर वो परेशान होंगी तो उनके मांश्पेशियाँ काफी सख्त हो जाती है और ऐसे में कप को बाहर निकालना बहुत मुश्किल होता है| ऐसे में अगर कप निकलने में मुश्किल होती है तो आप नीचे बैठें जिससे कि आपकी गर्भाशय ग्रीवा थोड़ी नीचे आ जायेगी और आप ऐसे नीचे की तरफ दम लगाए जैसे बच्चे की जन्म के समय नीचे धकेलती हैं| ऐसा करने से कप थोडा नीचे योनी के मूख के पास आ जाता है और आप कप के आधार या धड़ को चुटकी से दबाके ,पकड़ के खीच के निकाल सकते हैं, जैसा कि ऊपर हमने पहले बताया है |

मैं आपको एक महत्वपूर्ण सलाह देना चाहुँगी  कि जब भी आप मासिक कप का उपयोग कर रहें है  तो आप शांत भाव में रहे ,चाहे इसे डालते समय और निकालते समय| अगर आप परेशान होगें तो आपकी मांसपेशियां सख्त हो जायेंगी और कप को निकालना मुश्किल हो जाएगा| इस कप को आराम से इस्तेमाल करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

अस्वीकरण: इस पोस्ट में व्यक्त की गई राय लेखक के निजी विचार हैं। जरूरी नहीं कि वे विचार या राय hygieneandyou.com के विचारों को प्रतिबिंबित करते हों। कोई भी चूक या त्रुटियां लेखक की हैं और hygieneandyou.com उनके लिए कोई दायित्व या जिम्मेदारी नहीं मानता है।